सवाल- मुझे फ्रेंचाइज़ी बनने के बारे में जानना है?

जवाब- जी बिलकुल लेकिन इससे पहले  कुछ और सवाल 

क्या आप अपने पंचायत के लोगों का स्वरोजगार और व्यापार के जरिए तरक्की चाहते हैं?
क्या आप अपने पंचायत के लोगों को इसके लिए मदद करने के लिए तैयार हैं ?
क्या आपका गांव उसी में पंचायत में है जहाँ आप हमारा पंचायत प्रतिनिधि  बनना चाहते हैं?

अगर ऊपर के सभी प्रश्नों का जवाब हाँ में है, तो फिर आप हमारे फ्रेंचाइज़ी बन यह सब कर सकते हैं।

क्या है जरूरी franchise बनने के लिए?
फ्रेंचाइज़ बनने के लिए आपके पास आपके पंचायत स्थित गांव में 5000 स्क्वायर फीट जमीन का होना जरूरी है क्योंकि भविष्य में इसी जमीन पर हम आपके लिए 100 सीटों वाला सिनेमाहॉल अपने निवेश पर बनाकर देंगे।
सवाल- फ्रेंचाइज़ी बनने के लिए क्या करें?
जवाब– आपको हमारे पोर्टल www.ruralcinemas.com पर जाकर फ्रेंचाइज़ी रजिस्ट्रेशन वाले पेज को खोलना होगा और वहाँ से आपको एक ऑनलाइन आवेदन फ्रैंचाइजी के लिए जमा करना होगा। यह आवेदन शुल्क के साथ लिया जाएगा। क्योंकि हम चाहते हैं सिर्फ वही लोग आवेदन करें जो वाकई में हमारे फ्रेंचाइज़ी बन अपने पंचायत के विकास के लिए काम करना चाहते हैं और साथ में अपनी कमाई भी करना चाहते हैं।
सवाल- आवेदन शुल्क के रूप में कितना रुपया लगेगा?
फ्रैंचाइजी के लिए आवेदन का शुल्क मात्र ₹6500 निर्धारित किया गया है जो कि आपको आवेदन भरने के साथ साथ ऑनलाइन ही जमा कराना होगा। बिना आवेदन शुल्क के कोई आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा।
सवाल:  क्या फ्रैंचाइजी को कोई रकम भी फ्रैंचाइजी शुल्क के रूप में देनी पड़ेगी?
जवाब- नहीं।  फ्रैंचाइजी से फ्रैंचाइजी शुल्क के रूप में कोई भी रकम नहीं ली जाएगी।
सवाल – फ्रैंचाइजी को प्रतिमाह  कितनी आमदनी होगी?
जवाब- इस सवाल का जवाब आपको इस सवाल-जवाब के अंत में मिलेगा। अंतिम पेज पर आप को अपना जवाब मिल जाएगा।
सवाल- फ्रेंचाइज़ी बन कैसे आप अपने पंचायत का विकास कर सकते हैं?
 जवाब: सबसे पहले यह बताना चाहते हैं कि यदि आप हमारे फ्रैंचाइजी बन जाते हैं तो आपको यह अधिकार दिया जाएगा कि सबसे पहले अपने पंचायत के 4000 परिवारों में से 1200 परिवारों का चयन करें जिसे आप स्वरोजगार के जरिए आमदनी बढ़ाने को सबसे ज्यादा उपयुक्त या इच्छुक मानते हैं।
क्योंकि हम पहले चरण में आपके पंचायत के सिर्फ 1200 परिवारों को सेल्फ हेल्प ग्रुप के जरिए, जिसमें एक ग्रुप में कम से कम परिवार का पांच सदस्य होगा, उसकी पूरी मदद करेंगे फिर दूसरे और तीसरे चरण में अन्य परिवारों की मदद की जाएगी। 

 अब आपको यह बताना जरूरी है कि कैसे आप 1200 परिवार ( कम से कम 5 सदस्यों वाला)  की मदद कर पाएंगे और उनकी आमदनी बढ़वाएंगे?
सवाल: चयन किए गए परिवारों को कैसे फायदा होगा?
चयनित परिवार से सबसे पहले उनके द्वारा उत्पादित फसल की जानकारी आप लेंगे ताकि उसके आधार पर हम उन्हें पांच अलग अलग तरह की सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाई के बारे में बताएंगे और साथ में यह भी बताएंगे कि इन इकाइयों के जरिये प्रतिवर्ष कितनी कमाई हो सकती है। किसान परिवार को इन पांच या छह इकाइयों का जो सुझाव हम देंगे उसमें से किसी एक का चयन कर हमें बताना होगा। फिर हम उनको चुनी गई इकाई से संबंधित एक डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट यानी डीपीआर बनाकर देंगे। इस रिपोर्ट में यह भी होगा कि उन्हें कौन-कौन सी और कैसी और कहाँ से मशीन लेनी है? यह प्रोजेक्ट रिपोर्ट उन्हें बिना किसी शुल्क के दी जाएगी हमारी तरफ से हमारे फ्रेंचाईजी( पंचायत प्रतिनिधि) के द्वारा।
इसके बाद हम उनसे आपके जरिए यह पूछेंगे कि इस इकाई के लिए उनके पास पूंजी निवेश हेतु रकम है या नहीं? 

अगर उनका जवाब ना में होगा तो फिर हम उन्हें लोन लेने के लिए कहेंगे।
अगर किसान परिवार लोन लेना चाहता है तो उसके द्वारा बनाए गए सेल्फ हेल्प ग्रुप के प्रत्येक सदस्य के नाम से अधिकतम ₹30,000 का लोन आवेदन इस प्रोजेक्ट रिपोर्ट के साथ हमारे लोन पार्टनर REAL WORLD को ऑनलाइन भेज देंगे। 

 
 

 एक सेल्फ हेल्प ग्रुप में कितने सदस्य होंगे और कितना लोन मिलेगा? 

एक सेल्फ हेल्प ग्रुप में कम से कम पांच सदस्य होंगे और अधिकतम 10 सदस्य। 

इस प्रकार एक सेल्फ हेल्प ग्रुप को ₹1,50,000 या अधिकतम ढा़ई से ₹3,00,000 का लोन हमारे लोन पार्टनर द्वारा दिया जाएगा।

क्या लोन आवेदन के लिए पंचायत प्रतिनिधि ( फ्रेंचाईजी ) या कंपनी कोई अलग से शुल्क लेगी?

इस लोन आवेदन को भरवाने में न तो हमारी कंपनी और ना ही हमारा फ्रेंचाइज़ी कोई भी अतिरिक्त कमीशन किसान परिवार से लेगा। इस लोन आवेदन के साथ न तो किसी प्रकार की गारंटी और गारंटर की जरूरत होगी मतलब हमारा लोन पार्टनर प्रति सदस्य अधिकतम ₹30,000 का लोन बिना किसी गारंटी के देगा। इसके लिए लोन लेने वालों के पास अपना पैनकार्ड और आधार कार्ड का होना अनिवार्य है।

सवाल-अगर पैन कार्ड न हो तब?

अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है तो हमारा फ्रेंचाइज़ी( पंचायत प्रतिनिधि )  आपको आधार कार्ड के आधार पर नया पैन कार्ड का आवेदन करवा इंस्टेंट पैन नंबर सरकार के पोर्टल से बनवा देगा बिना किसी शुल्क के।

सवाल-  लोन कैसे मिलेगा?

हमारा पंचायत प्रतिनिधि(फ्रेंचाईजी )आपका लोन आवेदन हमारे  लोन पार्टनर को ऑनलाइन, लोन प्रोसेस app के जरिए भेजेगा एवं उसी समय आपसे एक ऑफलाइन यानी कागजी आवेदन भरवाकर रख लेगा जो हम डाक के जरिए लोन पार्टनर को भेज देंगे लोन आवेदन के 15-20 दिन के अंदर लोन पार्टनर आपका आवेदन स्वीकृत कर आपके लिए खाते में लोन की रकम प्रोसेसिंग शुल्क काटकर डाल देगा। प्रोसेसिंग शुल्क के रूप में प्रति 1,50,000 के लोन पर ₹8000 और इंश्योरेंस के लिए ₹900  लोन पार्टनर काट लेगा और शेष रकम आपके( लोन लेने वाले ) खाते में आ जाएगी।

सवाल-क्या सभी लोन आवेदन पर लोन मिल जाएगा?

जवाब-  नहीं। 

जिन लोन आवेदन के कागजात में अगर किसी तरह की गड़बड़ी होगी तो हमारा लोन पार्टनर उस आवेदन को रद्द कर सकता है इसलिए लोन आवेदन के साथ सभी जानकारी और कागजात सही सही दे ताकि आपके लोन आवेदनों को अस्वीकृत होने की संभावना कम रहे।
सवाल-  एक बार लोन आवेदन अस्वीकृत होने पर क्या दोबारा आवेदन दे सकते हैं?
जवाब-  हाँ।  

लोन आवेदन स्वीकृत या अस्वीकृत करने का अधिकार लोन प्रदाता को होगा अगर आवेदन में तथ्य सही होगा तो लोन आवेदन अस्वीकृत नहीं होगा लेकिन अगर आपका लोन आवेदन अस्वीकृत हो जाता है तो फिर सही तथ्यों और कागजातों के आधार पर आप पुनः दुबारा लोन आवेदन कर सकते हैं।
सवाल- जब लोन मिल जाए तब?
लोन की रकम जैसे ही आपके खाते में आ जाएगी तो इसकी जानकारी लोन प्रदाता द्वारा फ्रैंचाइजी( पंचायत प्रतिनिधि) को भी दी जाएगी जिससे फ्रेंचाइज़ी यह सुनिश्चित करेगा कि लोन लेने वाला इस लोन का इस्तेमाल सिर्फ सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगाने के लिए करें। यह सुनिश्चित करना फ्रैंचाइजी का काम होगा। इसी कारण लोन के लिए पात्र परिवारों के चयन में फ्रैंचाइजी को पूर्ण अधिकार प्राप्त होगा किसे चयनित करना है या नहीं , यह काम हमारे फ्रैंचाइजी( पंचायत प्रतिनिधि) का ही होगा।
सवाल- लोन की वापसी कैसे होगी ?
लोन की वापसी प्रत्येक माह ई एम आई के जरिए होगी। प्रत्येक लोन ( औसतन) 1,50,000 रुपये की होगी उस पर 3000  से ₹5000 की ई एमआई प्रतिमाह देय होगी।  ये ईएमआई कम या अधिक  भी हो सकती है (जो लोन की अवधि पर निर्भर करेगा)।
सवाल- लोन पर कितना ब्याज लगेगा?
लोन प्रदाता प्रत्येक लोन पर कम से कम 14% प्रतिवर्ष या अधिकतम 18%* वार्षिक रिड्यूसिंग बैलेंस पर ब्याज लेगा।
सवाल- लोन से कैसे लगेंगी इकाई?
लोन की रकम में से सिर्फ 50,000 की रकम मशीन की खरीद में लगेंगी शेष किसान परिवार अपने उत्पाद को बनाने पर खर्च करेंगे।  मशीन की कीमत 20,000 से लेकर 50,000 तक के बीच ही होगी। प्रोजेक्ट रिपोर्ट में इस बात पर ध्यान दिया गया है कि पहले तीन माह की ईएमआई एवं यूनिट के मैटेरियल की कीमत की रकम किसान परिवार के पास बैंक में रहे।
सवाल: लोन लेने से इकाई तक का सफर कैसा होगा?
लोन मिलने के बाद हमारा फ्रैंचाइजी सबसे पहले आपसे प्रोजेक्ट रिपोर्ट के मुताबिक जरूरी मशीन की खरीदारी करवाएगा और मशीन बेचने वाली कंपनी की मदद से आपको घर बैठे वीडियो या व्यक्ति के द्वारा मशीन चलाने की ट्रेनिंग भी देगा।
सवाल- मशीन के ट्रेनिंग के लिए क्या मशीन निर्माता फ्रैंचाइजी को रकम भी देंगे?
जवाब– दे सकते हैं इसके लिए फ्रेंचाइज़ मशीन निर्माता के बीच शर्तें रखवाई जाएगी।
सवाल: यूनिट लगने के बाद उत्पादित प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग और बिक्री कैसे होगी?
जवाब- जब आपका यूनिट लग जाएगा और उत्पादन शुरू हो जाएगा तो इससे आपके विक्रेता डैशबोर्ड जो हमारे ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर पहले से बना हुआ है वहाँ पर आप अपने प्रोडक्ट्स की एंट्री कर पूरा कैटलॉग तैयार करेंगे जिसमें आपके स्टॉक की पूरी डिटेल्स के साथ अपने प्रोडक्ट्स की कीमत भी तय करेंगे और जैसे ही आपके प्रॉडक्ट लिस्टिंग हमारे ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर हो जाएगी तो आपका प्रॉडक्ट पूरी दुनिया में खरीदारों के लिए उपलब्ध हो जाएगा।
यानी हम आपके प्रॉडक्ट की मार्केटिंग और बिक्री अपने ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म के द्वारा करेंगे इसके लिए आपको कोई खर्च नहीं करना है बस मार्केटिंग एवं बिक्री के एवज में हम अपना कमीशन बिक्री हुए उत्पादों में से काट लेंगे।

सवाल – बिक्री पर कितना कमीशन लगेगा ?

 
 

जवाब – 7.5% , बिक्री से प्राप्त रकम से हम अपना कमीशन काट शेष रकम किसान के खाते में डाल देंगे । किसान या हमारा पंजीकृत विक्रेता ये सब अपने विक्रेता dashboard  पर देख सकता है। 

सवाल- प्रॉडक्ट की पैकिंग और कूरियर कौन करेगा?

जवाब जैसे ही कोई आपका सामान खरीदता है तो आपके साथ साथ हमारे फ्रैंचाइजी को भी मैसेज आ जाएगा जिससे वह आपके बिके सामान को लेकर पैकिंग कर कुरियर कंपनी को सौंप देगा। कुरियर कंपनी को पैसा हमारी कंपनी देगी। कुरियर कंपनी आपका माल सीधे क्रेता तक पहुंचा देगी पूरी दुनिया भर में, कहीं भी । 
सवाल-बिके हुए माल का पेमेंट कब मिलेगा?
जैसे ही क्रेता आपका सामान प्राप्त कर लेता है वैसे ही आपके खाते में बिक्री की रकम से हम अपना साढ़े-सात फीसदी कमीशन काट राशि को जमा करवा देंगे।
सवाल- फ्रैंचाइजी को कितना कमीशन मिलेगा?
बिक्री से प्राप्त हुए हमारे कमीशन में से 15 फीसदी हिस्सा विक्रेता के फ्रैंचाइजी को दिया जाएगा
मान लें आपकी मदद से आपके पंचायत में 12 यूनिट लग गए और प्रत्येक महीने 50,000 की बिक्री एक यूनिट अगर करता है तो आपके क्षेत्र से कुल ₹6,00,00,000 की बिक्री हर महीने होगी। इस बिक्री से हमें 7.5% कमीशन के रूप में ₹45,00,000 मिलेंगे जिसमें से हम आपको आपका 15% हिस्सा यानी ₹6,75,000 फ्रेंचाइज़ी कमीशन के रूप में देंगे। यह पूरा हिसाब किताब और अपना कमीशन फ्रेंचाइज़ी ऑनलाइन अपने डैशबोर्ड के जरिए भी देख सकते हैं। इसके अलावा बिक्री से मिले कमीशन के अतिरिक्त हम फ्रैंचाइजी को 100 सीटों वाला सिनेमाहॉल अपने खर्च पर बनाकर दे रहे हैं जिससे टिकट की बिक्री से हुई आमदनी का 50% हिस्सा और विज्ञापन से हुई आमदनी का 15% हिस्सा बतौर कमीशन फ्रैंचाइजी को हर महीने मिलेंगे।

सिनेमा इक्विपमेंट औरउसमें चलने वाली फिल्मों की उपलब्धता 

हमारे खर्च पर होगी जबकि फ्रैंचाइजी अपने सेंटर पर काम करने वाले लोगों की तनख्वाह देगा। कुल मिलाकर हमारा फ्रेंचाइज़ी प्रतिमाह लाखों की कमाई करेगा और अपने पंचायत का विकास भी।

सवाल- किसान परिवारों को कैसे मिलेगा फायदा?
हमारे पोर्टल पर पंजीकृत किसानों और उनके परिवारों को उनके फसल के आधार पर सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगाने की सलाह,  प्रोजेक्ट प्रोजेक्ट रिपोर्ट और लोन आवेदन इत्यादि की सुविधा घर बैठे फ्रैंचाइजी(पंचायत प्रतिनिधि) के द्वारा दिलाई जाएगी। हमारे पोर्टल पर पंजीकृत सदस्य ही हमारे फ्रैंचाइजी के जरिए इन सेवाओं का लाभ ले सकते हैं।
सवाल- कैसे होगा पंजीकरण? किसका होगा का अधिकार?
 फ्रैंचाइजी के पास यह अधिकार होगा कि वह जिसको उचित समझे उसे चुन पंजीकृत करे और सूक्ष्म खाद्य प्रसंस्करण इकाई लगवा आमदनी बढ़वाने में मदद करे। 
सवाल: कितना लगेगा पंजीकरण शुल्क:?
प्रत्येक सदस्य को मात्र ₹1000 पंजीकरण शुल्क के रूप में जमा करना होगा।
एसएचजी यानी सेल्फ हेल्प ग्रुप
एक स्वयं सहायता समूह में कम से कम पांच और अधिकतम 10 पंजीकृत सदस्य ही होंगे।
सदस्यों की संख्या के आधार पर प्रति सदस्य अधिकतम ₹30,000 का लोन हमारे लोन पार्टनर के जरिए दिया जाएगा बिना किसी गारंटी और गारंटर के
सवाल – तो फिर लोन की गारंटी कौन लेगा?
प्रत्येक लोन की गारंटी हमारी कंपनी लोन पार्टनर को देगी यानी किसी लोन पर यदि लोन लेने वाला पैसा वापस नहीं करता उसे हमारी कंपनी को भरना होगा ऐसे में कंपनी फ्रैंचाइजी को भी जिम्मेदार बनाएगी क्योंकि लोन के लिए सही व्यक्ति और परिवार का चयन फ्रेंचाइज़ी ही करेगा।
सवाल- अगर किसी के पास खेती के लिए जमीन न हो और वो खेती भी न करता हो मगर उसके पास कोई हुनर यानी किसी पेशे से जीवन यापन करने की क्षमता हो तो क्या हुआ लोन ले सकता ?
जवाब- हाँ। 

हैंडीक्राफ्ट, मोमबत्ती, दियासलाई,ब्रेड-बिस्कुट, नमकीन, मिठाई, पापड़, पेंटिंग, कढ़ाई, सिलाई, जूता – चप्पल बनाने, कपड़ा बुनाई इत्यादि अनेकों प्रोजेक्ट के लिए हम अपने पंजीकृत सदस्य को लोन आवेदन के लिए प्रेरित करेंगे यानी भूमिहीन और मज़दूरों को भी स्वरोजगार के लिए ऋण दिलवाने के लिए हम तत्पर रहेंगे और उन्हें भी अपने लोन पार्टनर के जरिए लोन दिला स्वरोजगारी बना लाखों की कमाई करवाएंगे।
अब खुद का करें रोजगार और बढ़ाएँ अपनी आमदनी। आपके पंचायत में हमारा प्रतिनिधि करेगा आपकी पूरी मदद। 



फिर देर किस बात की , अगर आप भी हमारा पंचायत प्रतिनिधि बन करना चाहते हैं अपने लोगों का विकास तो आज ही आवेदन करें। 

 

प्रत्येक पंचायत में हमारा सिर्फ एक ही प्रतिनिधि होगा। 

 

जल्दी करें , कहीं कोई और ना बन जाए आपके पंचायत का प्रतिनिधि । 

अगर फिर भी किसी प्रकार की सहायता चाहते हैं तो हमारे 24 क्ष 7 ( 24 घंटे )  कस्टमर केयर नंबर पर संपर्क कर सकते है!
कस्टमर केयर – 844-844-0923

  • *लोन प्रदाता इसमें बदलाव कर सकता है।